July 12, 2024

2 घंटे 16 मिनट के भाषण में पीएम मोदी ने विपक्ष के सवालों का चुन – चुन कर दिया जवाब

image 10

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को सदन में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब दिया। पीएम मोदी ने विपक्ष को अपने 2 घंटे 16 मिनट के भाषण में खूब लपेटा। उन्होंने कहा कि “जनता ने हमारे 10 साल के ट्रैक रिकार्ड को देखा है। हमारी नीतियों नियत और निष्ठा पर भरोसा जताया है और लगातार तीसरी बार देश की सेवा करने का मौका दिया है। यह लोकतांत्रिक विश्व के लिए गौरवपूर्ण घटना है।”

प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि “कुछ लोगों का दर्द वह समझ सकते हैं। लगातार झूठ फैलाने के बावजूद उन्हें भारी हार का सामना करना पड़ा। हम तुष्टीकरण नहीं बल्कि संतुष्टीकरण की नीति पर चले हैं। हमारा एकमात्र लक्ष्य ‘राष्ट्र प्रथम’ है।”

क्या है सेंसरी न्यूरल हियरिंग लॉस? जिससे जूझ रही हैं गायिका अलका याग्निक: Sensorineural Hearing Loss (SNHL)

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान चर्चा पर पीएम मोदी ने नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी के सवालों का जवाब दिया और विपक्ष पर जमकर प्रहार किया।

राहुल गांधी के ‘हिंदू’ वाले बयान पर पीएम मोदी ने क्या कहा ?

Source: Sansad TV

राहुल गांधी के ‘हिंदु हिंसा करते हैं’ वाले बयान पर पलटवार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “जो संसद में कल हुआ देशवासी सदियों तक इसे माफ नहीं करेंगे।”

उन्होंने कहा कि, “131 साल पहले स्वामी विवेकानंद जी ने शिकागो में कहा था कि मुझे गर्व है कि मैं उसे धर्म से आता हूं जिसने पूरी दुनिया को सहिष्णुता और वैश्विक स्वीकृति सिखाई है। विवेकानंद जी ने हिंदू धर्म के लिए यह बात शिकागो में दुनिया भर के दिग्गजों के सामने कहा था।”

पीएम मोदी ने कहा, “आज हिंदुओं पर झूठा आरोप लगाने की साजिश हो रही है, षड्यंत्र हो रहा है। कुछ दिन पहले शक्ति के विनाश की घोषणा भी की गई। आप किस शक्ति के विनाश की बात करते हैं। यह हिंदुस्तान सदियों से शक्ति की उपासना करता है।”

विपक्षी गठबंधन में शामिल डीएमके पर भी निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, “इनके साथी हिंदुओं की तुलना ‘मलेरिया’ से करें और यह लोग तालियां बजाएं, देश कभी माफ नहीं करेगा।

राहुल गांधी द्वारा शिवजी का चित्र सदन में दिखाने पर क्या कहा मोदी ने ?

राहुल गांधी ने कल शिवजी का चित्र सदन में दिखाया था। जिसको लेकर प्रधानमंत्री ने कहा, “ईश्वर का हर रूप दर्शन के लिए होता है। हमारे देवी देवताओं का अपमान 140 करोड़ देशवासियों के दिलों को गहरी चोट पहुंचा रहा है, कर लीजिए राजनीतिक स्वार्थ के लिए ईश्वर के रूपों का इस तरह से खेल।”

उन्होंने आगे कहा “सदन के कल के दृश्यों को देखकर हिंदू समाज को यह सोचना होगा कि अपमान करने वाला यह बयान संयोग है या कोई प्रयोग की तैयारी है,यह हिंदू समाज को सोचना होगा।” उन्होंने आगे कहा कि “एक सोची समझी साजिश के तहत इनका पूरा इकोसिस्टम हिंदू परंपरा को नीचा दिखाना, मजाक उड़ाना, अपमानित करना, यह फैशन बना दिया है।

कांग्रेस के इकोसिस्टम पर प्रधानमंत्री की कांग्रेस को चुनौती

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि “2014 में सरकार में आने के बाद देश के सामने एक बहुत बड़ी चुनौती कांग्रेस के साथ ही कांग्रेस का इकोसिस्टम भी रहा है। कांग्रेस की वजह से यह इकोसिस्टम फला फूला है।

जिस तरह इकोसिस्टम में ने ठान लिया है कि देश की विकास यात्रा को रोक देंगे, देश की प्रगति को डिरेल कर देंगे मैं आज इकोसिस्टम को बता देना चाहता हूं कि उसकी हर साजिश का जवाब अब उसी की भाषा में मिलेगा। यह देश देशविरोधी साजिशों को कभी भी स्वीकार नहीं करेगा।”

Hathras Stampede: हाथरस में साकार हरि बाबा के एक सत्संग में मची भगदड़, 120 लोगों की मौत

कांग्रेस के चुनावी वादों पर पीएम मोदी ने कसा तंज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कांग्रेस के चुनावी वादे पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि तुलसीदास जी कह गए हैं-

'झूठई लेना, झूठई देना, झूठई भोजन, झूठ चबेना।।'

“कांग्रेस ने झूठ को राजनीतिक हथियार बना लिया है। कांग्रेस के मुंह झूठ लग गया है। जैसे आदमखोर जानवर के मुंह पर खून लग जाता है वैसे ही कांग्रेस के मुंह पर झूठ का खून लग गया है।”

पीएम ने कहा देश ने 1 जुलाई को खटखट दिवस भी मनाया है। 1 जुलाई को लोग अपने बैंक अकाउंट चेक कर रहे थे कि 8500 आए कि नहीं आए। यह झूठे नॉरेटिव का परिणाम है। देखिए इसी चुनाव में कांग्रेस ने देशवासियों को गुमराह किया। माताओं – बहनों को हर महीने ₹8500 देने का झूठ। इन माताओं बहनों को ये जो चोट लगी है ना वह शाप बनकर कांग्रेस को तबाह करने वाली है”

प्रधानमंत्री ने गिनाए कांग्रेस के झूठ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर सेना को लेकर भी झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि, “सेना को लेकर भी झूठ बोला जा रहा है ताकि देश के नौजवान सेवा में न जाए।” उन्होंने सवाल पूछते हुए कहा कि “आखिर किसके लिए कांग्रेस हमारी सीनेट को कमजोर करना चाहती है।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि, “EVM को लेकर झूठ, संविधान को लेकर झूठ, आरक्षण को लेकर झूठ, उससे पहले राफेल को लेकर झूठ, एलआईसी को लेकर झूठ, एचएएल को लेकर झूठ
बैंकों को लेकर झूठ। हौसला तो इतना बढ़ गया कि कल सदन को भी गुमराह करने का प्रयास हुआ। अग्नि वीर को लेकर सदन में झूठ बोला गया।”

उन्होंने कहा कि जो दल 60- 60 वर्षों तक यहां बैठा है, जो सरकार के कामों को जानता है, जिसके पास अनुभवी नेताओं की श्रृंखला है। वह जब अराजकता की इस रास्ते पर चले जाएं झूठ के रास्ते को चुन ले तब देश गंभीर संकट की तरफ जा रहा है, इसके सबूत मिल रहे हैं।

पेपर लीक पर छात्रों को दिया आश्वासन

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेपर लीक मसले पर भी छात्रों को आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि “पेपर लीक से जुड़े किसी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा।” प्रधानमंत्री ने बताया कि “नीट के मामले में पूरे देश में लगातार गिरफ्तारियां की जा रही हैं। केंद्र सरकार पहले ही सख्त कानून बन चुकी है। परीक्षा करने वाले पूरे सिस्टम को पुख्ता करने के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।”