एनडीटीवी के अधिग्रहण के करीब पहुंचा अडाणी समूह (Adani group close to acquisition of NDTV)

Established in the year 1988 and owned by husband-wife duo Prannoy Roy & Radhika Roy, NDTV (New Delhi Television) (NDTV) is now poised to become a member of the Adani Group. The discussion about this was going on for the last several months but the process of acquisition is now nearing completion.
वर्ष 1988 की स्थापित और पति-पत्नी प्रणय राय और राधिका राय के स्वामित्व में संचालित एनडीटीवी (न्यू दिल्ली टेलीविजन) अब अडाणी समूह का सदस्य बनने की ओर अग्रसर है। इसके विषय में चर्चा तो पिछले कई महीनों से चल रही थी लेकिन अधिग्रहण की प्रक्रिया अब पूर्ण होने को है।

NDTv , Adani Group,

NDTV Acquired By Adani Group_Ravish Kumar_Pronnoy Roy_Radhika Roy

NDTV Acquisition NEWS :वर्ष 1988  की स्थापित और पति-पत्नी प्रणय राय और राधिका राय (Prannoy Roy & Radhika Roy) के स्वामित्व में संचालित एनडीटीवी (न्यू दिल्ली टेलीविजन) (NDTV )अब अडाणी समूह (Adani Group) का सदस्य बनने की ओर अग्रसर है। इसके विषय में चर्चा तो पिछले कई महीनों से चल रही थी लेकिन अधिग्रहण की प्रक्रिया अब पूर्ण होने को है।

एनडीटीवी के संस्थापक प्रणय राय और उनकी पत्नी राधिका राय (NDTV Founders prannoy Roy & Radhika Roy) ने प्रवर्तक समूह की कम्पनी आर आर पी आर होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है। एनडीटीवी ने मंगलवार 29 नवंबर को शेयर बाजारों में भेजी सूचना में कहा कि प्रणय और राधिका राय आर आर पी आर होल्डिंग्स(RRPR Holding) के निदेशक मंडल से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है। एनडीटीवी (NDTV) ने कहा है कि आर आर पी आर होल्डिंग के निदेशक मंडल ने सुदीप्त भट्टाचार्य संजय पुगलिया और सैंटिल सिंनैय्या चैंगलवारायण को बोर्ड ने तत्काल प्रभाव से निदेशक के रूप में नियुक्ति की मंजूरी दे दी है। अडाणी समूह (Adani Group) ने इस सप्ताह आरआरपीआर होल्डिंग्स का नियंत्रण हासिल कर लिया है। भट्टाचार्य, पुगलिया और चैंगलवारायण कंपनी में अदानी समूह (Adani Group) की ओर से मनोनीत किए गए है

बकाया कर्ज से मिला अडाणी समूह को NDTV अधिग्रहण का मौका (Adani group gets opportunity to acquire NDTV from outstanding debt)

इस अधिग्रहण का कारण बना है एक बकाया कर्ज जो न्यू दिल्ली टेलीविजन के संस्थापक प्रणय और राधिका राय ने 2009 – 10 में अंबानी समूह की एक कंपनी से 403.85 करोड़ रुपए का ब्याज मुक्त ऋण लिया था। यह कंपनी थी – विश्व प्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (वीसीपीएल)। आरआरपीआर होल्डिंग्स के पास एनडीटीवी की 29.18% हिस्सेदारी है। इस कर्ज के बदले आर आर पी आर ने वीसीपीएल को वारंट जारी किया। जिनका अगर वह भुगतान नहीं कर पाई तो स्थिति में इस स्थिति में उन्हें आर आर पी आर में 99.9% हिस्सेदारी में बदलने का अधिकार होगा। वर्ष 2012 में वीसीपीएल का स्वामित्व बदल गया। अदानी समूह की फर्म ने पहले इसका अधिग्रहण किया फिर बकाया ऋण को मीडिया कंपनी में 29.18% हिस्सेदारी में बदलने के विकल्प का प्रयोग किया। जिसके बाद अडाणी समूह ने अधिग्रहण नियमों के अनुरूप देश की जनता से अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी खरीदने के लिए 493 करोड रुपए की खुली पेशकश की। यह पेशकश 22 नवंबर को खुली है और 5 दिसंबर को बंद होगी। खुली पेशकश सफल होने के बाद अदानी समूह की समाचार चैनल में 55% से अधिक की नियंत्रक हिस्सेदारी हो जाएगी।

रवीश कुमार ने दिया इस्तीफा (Ravish Kumar resigns from NDTV)

30 नवंबर 2022 को टीवी पत्रकार रवीश कुमार (Ravish Kumar) ने एनडीटीवी से इस्तीफा दे दिया। रविश कुमार एनडीटीवी समूह के हिंदी समाचार चैनल एनडीटीवी इंडिया के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक थे। वह 15 से अधिक वर्षों से एनडीटीवी (NDTV) के साथ जुड़े रहे। उन्होंने इस चैनल के लिए कई कार्यक्रमों की मेजबानी की जिसमें हम लोग, रवीश की रिपोर्ट, देश की बात और प्राइमटाइम शामिल है।