June 25, 2024

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कल से UP में Lockdown को लेकर बड़े निर्णय लिए

Uttar Pradesh HIndi News | Latest UP hindi News | lockdown news in up today | up lockdown की ताज़ा खबरे हिन्दी | Yogi Adityanath Ji On lockdown
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि आज प्रदेश में कोई भी ऐसा जनपद नहीं है, जहां 600 से अधिक एक्टिव कोविड केस हों। इसके दृष्टिगत उन्होंने राज्य के सभी 75 जनपदों में कल 9 जून, 2021 की सुबह 7ः00 बजे से शाम 7ः00 बजे तक आंशिक कोरोना कफ्र्यू में छूट दिए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि दैनिक रात्रिकालीन बन्दी तथा साप्ताहिक बन्दी की व्यवस्था सभी जनपदों में पूर्ववत प्रभावी रहेगी। पहले चरण में एक सप्ताह के लिए यह व्यवस्था लागू रहेगी। इसके पश्चात कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए निर्णय लिया जाएगा।

Yogi adityanath ji has given instructions for relaxation in Lockdown

Yogi adityanath ji has given instructions for relaxation in Lockdown

Chief Minister Yogi Adityanath has given instructions for relaxation in Lockdown :Lockdown in Uttar Pradesh

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister Yogi Adityanath) ने कहा है कि आज प्रदेश में कोई भी ऐसा जनपद नहीं है, जहां 600 से अधिक एक्टिव covid cases हों। इसके दृष्टिगत उन्होंने राज्य के सभी 75 जनपदों में कल 9 जून, 2021 की सुबह 7ः00 बजे से शाम 7ः00 बजे तक आंशिक corona curfew में छूट दिए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि दैनिक रात्रिकालीन बन्दी (Night Curfew) तथा साप्ताहिक बन्दी (Weekend Lockdown) की व्यवस्था सभी जनपदों में पूर्ववत प्रभावी रहेगी। पहले चरण में एक सप्ताह के लिए यह व्यवस्था लागू रहेगी। इसके पश्चात corona संक्रमण की स्थिति को देखते हुए निर्णय लिया जाएगा।

चलिए देखते हैं, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister Yogi Adityanath)द्वारा कहे गए कुछ महत्पूर्ण बातों को और उनके द्वारा Lockdown  में दिए गए छूट को –

(Let us see, some important decisions taken by Chief Minister Yogi Adityanath and the relaxation given by him in Lockdown.)

1. दैनिक रात्रिकालीन बन्दी (Night curfew) तथा साप्ताहिक बन्दी (Weekend lockdown) की व्यवस्था सभी जनपदों में पूर्ववत प्रभावी रहेगी |

2. पहले चरण में एक सप्ताह के लिए यह व्यवस्था लागू रहेगी, इसके पश्चात corona संक्रमण की स्थिति को देखते हुए निर्णय लिया जाएगा |

3. संक्रमण कम हुआ है, कोरोना वायरस समाप्त नहीं हुआ, इसलिए covid संक्रमण से बचाव के लिए corona protocols का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए |

4. समस्त जनपदों में पुलिस द्वारा व्यापक पेट्रोलिंग की जाए, यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं पर, विशेषकर बाजारों में भीड़ एकत्र न होने पाए |

5. जनता को corona संक्रमण से बचाव के संबंध में निरंतर जागरूक करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम(Public address system) का व्यापक उपयोग किया जाए |

6. Covid Recovery rate and covid tests in Uttar Pradesh.

उत्तर प्रदेश राज्य(Uttar Pradesh) में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर (Covid recovery rate) बढ़कर 97.9 प्रतिशत हो गयी |देश में पिछले 24 घण्टों में 2,84,911 कोविड टेस्ट किए गए हैं। प्रदेश में अब तक कुल 05 करोड़ 19 लाख से अधिक कोविड टेस्ट (Covid Test) किए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister Yogi Adityanath) को अवगत कराया गया कि विगत 24 घण्टों में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 797 नए मामले आए हैं। इसी अवधि में 2,226 संक्रमित व्यक्तियों का सफल उपचार करके डिस्चार्ज किया गया है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामलों (Activa cases of covid) की संख्या घटकर 15 हजार से भी कम हो गई है। राज्य में अब कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामले 14,067 रह गए हैं।

7. मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार की ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ (T3, test, trace, treat) की नीति से प्रदेश में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण में प्रभावी सफलता मिली है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister Yogi Adityanath)ने कहा कि निगरानी समितियों द्वारा स्क्रीनिंग करते हुए सभी लक्षणयुक्त एवं संदिग्ध संक्रमित व्यक्तियों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने की व्यवस्था निरंतर जारी रहे |

8. पोस्ट कोविड काॅम्प्लीकेशन वाले मरीजों के उपचार की समुचित व्यवस्था की जाए |

9. ब्लैक फंगस(black fungus ) के संक्रमण से प्रभावित सभी मरीजों को समय पर दवा उपलब्ध हो जाए |

10. राज्य में मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर (medical Infrastructure) को सुदृढ़ करने के प्रयास युद्ध स्तर पर जारी रहें |

11. टेलीकंसल्टेशन (Teleconsultation) व्यवस्था को सुदृढ़ करने के प्रभावी प्रयास किए जाएं |सामुदायिक, प्राथमिक एवं उप स्वास्थ्य केन्द्र (UP Health center) तथा हेल्थ एवं वेलनेस सेण्टर(health & wellness center) के सुदृढ़ीकरण के लिए जनप्रतिनिधियों से निरंतर संवाद बनाकर पूरा सहयोग प्राप्त किया जाए। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Association) सहित अन्य मेडिकल संस्थाओं का भी सहयोग लिया जाए। 

12. ALS ‘108’ तथा ‘102’ एंबुलेंस सेवाएं (ambulance services) सुचारु ढंग से कार्यशील रहें |

13. कोविड बेड (Covid Bed) की संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी की जा रही, PICU (Pediatric Intensive Care Unit) तथा NICU ( Neonatal Intensive Care Unit ) का निर्माण कार्य तेजी से प्रगति पर |

14. अधिक से अधिक प्रदेशवासियों के शीघ्र वैक्सीनेशन (vaccination)के लिए पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेटर्स का प्रशिक्षण (training to vaccinators) कराकर उनकी उपलब्धता सुनिश्चित की जाए |

15. जून  माह, 2021 में प्रतिदिन लगभग 06 लाख कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine ) की डोज दिए जाने के प्रयास किए जाएं, आगामी माह जुलाई, 2021 से प्रतिदिन कम से कम 10 लाख कोरोना वैक्सीन के डोज एडमिनिस्टर किए जाएं |

16. उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) में ऑक्सीजन (Oxygen) की पर्याप्त उपलब्धता है, निर्माणाधीन ऑक्सीजन संयंत्रों का कार्य पूरी गति से संचालित |

17 . अभी तक 10 लाख 24 हजार से अधिक किसानों से 46.78 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद, किसानों को खरीद की एवज में 7,387 करोड़ रु0 का भुगतान |

18. खाद्यान्न का वितरण अनिवार्य रूप से ई-पॉस मशीनों (E-pass Machines) के माध्यम से किया जाए |

19. वर्षा काल में मनरेगा (MGNREGA) के तहत जल संरक्षण से जुड़े कार्य कराए जाएं |

20. सभी पात्र लाभार्थियों को समयबद्ध ढंग से छात्रवृत्ति (Scholarship) उपलब्ध करायी जाए|

मुख्यमंत्री जी ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति की प्रगति के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देश दिए कि सभी पात्र लाभार्थियों को समयबद्ध ढंग से छात्रवृत्ति उपलब्ध करायी जाए।

21. मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना(Mukhyamantri Abhyudaya Yojana) के अंतर्गत पारदर्शी व्यवस्था के माध्यम से मेधावी विद्यार्थियों को टैबलेट उपलब्ध कराया जाए |

यह भी सुनिश्चित किया जाए कि योजना का लाभ बिना किसी भेदभाव के सभी जनपदों के मेधावी विद्यार्थियों को प्राप्त हो। 

22. प्राविधिक शिक्षा विभाग के शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत विद्यार्थियों की ऑनलाइन परीक्षा कराई जानी चाहिए |

23. उ0प्र0 मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (Chief Minister Child Service Scheme)

उ0प्र0 मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (Chief Minister Child Service Scheme) को पूरी गंभीरता एवं संवेदनशीलता के साथ क्रियान्वित किया जाए, ऐसे निराश्रित बच्चे, जिनके माता-पिता अथवा विधिक अभिभावक का निधन अन्य कारणों से हो गया है, उनके पालन पोषण व
शिक्षा-दीक्षा के संबंध में भी प्रभावी व्यवस्था बनाई जाए |

24.आंगनबाड़ी केंद्रों (Anganwadi Centres)

सभी आंगनबाड़ी केंद्रों (Anganwadi Centres) पर पेयजल एवं शौचालय की व्यवस्था किए जाने की योजना को शीघ्रता से क्रियान्वित करने के निर्देश, ऐसे आंगनबाड़ी केंद्र जिनका अपना भवन नहीं है, उन्हें अपना भवन उपलब्ध कराने के लिए कार्य योजना तैयार की जाए |

उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों के भवन निर्माण के लिए राज्य वित्त आयोग से ग्राम पंचायतों से उपलब्ध कराई गई धनराशि अथवा डिस्ट्रिक्ट मिनरल फंड में उपलब्ध धनराशि का उपयोग किया जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथजी ने आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों को स्मार्टफोन (SmartPhone) उपलब्ध कराए जाने की योजना के समयबद्ध क्रियान्वयन के निर्देश देते हुए कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों द्वारा स्मार्टफोन का समुचित उपयोग किया जा सके, इसके लिए उनका प्रशिक्षण भी कराया जाए।