क्या आप राष्ट्रीय दुग्ध दिवस के बारे में ये रोचक तथ्य जानते हैं? (Did you know these interesting facts about National Milk Day)

भारत में दूध उत्पादन से संबंधित श्वेत क्रांति ( Operation Flood ) के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन का जन्मदिन 26 नवंबर को मनाया जाता है। नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड (NDDB) के साथ मिलकर भारतीय डेयरी एसोसिएशन (National Dairy Association) और 22 राज्य स्तरीय दूध फेडरेशन ने 2014 में डॉ. वर्गीज कुरियन के जन्मदिन को दुग्ध दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया। इस तरह पहला दुग्ध दिवस 26 नवंबर, 2014 को मनाया गया।
The birthday of Dr. Verghese Kurien, the father of the White Revolution (Operation Flood) related to milk production in India is celebrated on 26 November. Indian Dairy Association (National Dairy Association) along with National Dairy Board (NDDB) and 22 state level milk unions decided to celebrate Dr. Verghese Kurien’s birthday as Milk Day in 2014. Thus the first Milk Day was celebrated on 26 November 2014.
National Milk Day

National Milk Day

दुग्ध उत्पादकों का पर्व: राष्ट्रीय दुग्ध दिवस ( Festival of Milk Producers: National Milk day )

भारत में दूध उत्पादन से संबंधित श्वेत क्रांति ( Operation Flood ) के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन (Dr. Verghese Kurien) का जन्मदिन 26 नवंबर को मनाया जाता है। नेशनल डेयरी डेवलपमेंट बोर्ड (NDDB) के साथ मिलकर भारतीय डेयरी एसोसिएशन (National Dairy Association) और 22 राज्य स्तरीय दूध फेडरेशन ने 2014 में डॉ. वर्गीज कुरियन के जन्मदिन को दुग्ध दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया। इस तरह पहला दुग्ध दिवस (Verghese Kurien) 26 नवंबर, 2014 को मनाया गया।

यह दिवस एक व्यक्ति के जीवन में दूध के महत्व को रेखांकित करता है और इसका उद्देश्य है दूध से संबंधित लाभों को बढ़ावा देना तथा दूध एवं दुग्ध उत्पादनों के महत्व के बारे में लोगों में जागरूकता पैदा करना।

क्या है श्वेत क्रांति? What is White Revolution (Operation Flood)?

13 जनवरी, 1970 को इसकी शुरुआत हुई। यह विश्व का सबसे बड़ा डेयरी विकास कार्यक्रम था। 30 वर्षों के भीतर Operation Flood ने भारत में प्रति व्यक्ति दुग्ध उत्पादकता को दोगुना कर दिया, जिससे डेयरी फार्मिंग भारत का सबसे बड़ा आत्मनिर्भर ग्रामीण रोजगार उत्पन्न करने वाला क्षेत्र बन गया। यह क्रांति 1970 से 1996 तक 3 चरणों में कार्यान्वित हुई।

इस क्रांति के तीन मुख्य उद्देश्य थे–: (3 major objectives of this revolution)

  1. दुग्ध उत्पादन को बढ़ाना।
  2. ग्रामीण आय में वृद्धि
  3. उपभोक्ताओं को उचित मूल्य।

कौन थे डॉ वर्गीज कुरियन? Who was Dr. Verghese Kurien?

  • इन्हें भारत में ‘ मिल्कमैन ‘ के नाम से जाना जाता है; श्वेत क्रांति के जनक भी यही है। ( Father of White Revolution )

  • उन्होंने अमूल ब्रांड (Amul Brand) की स्थापना की और उसकी सफलता में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।
  • अमूल की सफलता से प्रेरित होकर तात्कालिक प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने अमूल मॉडल को देश के अन्य स्थानों पर फैलाने के लिए राष्ट्रीय दुग्ध विकास बोर्ड (National Dairy Development Board) का गठन 1965 में किया।
  • इन्हीं सब प्रयासों के परिणामस्वरूप विगत कई वर्षों से भारत विश्व का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक देश है।