Guddu Muslim (Atique Ahmed Updates) : क्या गुड्डू मुस्लिम ‘ बमबाज’ ही निकला ‘ धोखेबाज’ ?

Guddu Muslim || About Guddu Muslim || Crime History of Guddu muslim || Atique Ahmed News || Umesh pal Murder Case || Crime News || Janpanchayat Hindi news || Latest news || Breaking News

गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) बचपन से ही अपराधी प्रवृत्ति का रहा है। स्कूल में ही गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) रंगदारी वसूलता था। गुड्डू (Guddu) को बमबाज के नाम से भी जाना जाता है। चलती बाइक से गुड्डू मुस्लिम बम चलाता है। अतीक अतीक अहमद का पूरा नेटवर्क गुड्डू मुस्लिम ही चलाता है। 15 वर्ष की उम्र में ही गुड्डू मुस्लिम अपराधी बन गया था। गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim )बिहार के माफियाओं के साथ- साथ धनंजय सिंह और मुख्तार अंसारी जैसे बाहुबलियों के लिए भी काम कर चुका है।

Guddu muslim News In Hindi_Atique Ahmed Updates_Janpanchayat Hindi News

 अतीक अहमद (Atique Ahmed) और अशरफ (Ashraf) की हत्या के बाद से गुड्डू मुस्लिम के ऊपर यह शक जताया जा रहा है कि उसने ही अतीक अहमद और अशरफ की हत्या करवाई है। गुड्डू मुस्लिम कौन है और कैसे बना अतीक का दाहिना हाथ आइए जानते हैं –

 गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) बचपन से ही अपराधी प्रवृत्ति का रहा है। स्कूल में ही गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) रंगदारी वसूलता था। गुड्डू (Guddu) को बमबाज के नाम से भी जाना जाता है। चलती बाइक से गुड्डू मुस्लिम बम चलाता है। अतीक अतीक अहमद का पूरा नेटवर्क गुड्डू मुस्लिम ही चलाता है। 15 वर्ष की उम्र में ही गुड्डू मुस्लिम अपराधी बन गया था। गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim )बिहार के माफियाओं के साथ- साथ धनंजय सिंह और मुख्तार अंसारी जैसे बाहुबलियों के लिए भी काम कर चुका है। 

लेकिन गुड्डू मुस्लिम अतीक अहमद का दाहिना हाथ कैसे बना ?

 बताया जाता है कि गोरखपुर पुलिस ने 2001 में गुड्डू मुस्लिम को नारकोटिक्स के तहत गिरफ्तार किया था। जिसके बाद अतीक अहमद (Atique Ahmed) ने ही उसकी जमानत करवाई थी। और उसके बाद से गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) अतीक अहमद का दाहिना हाथ बन गया।
अतीक गैंग में गुड्डू मुस्लिम का नाम सबसे पहले आता है ,  लेकिन अतीक अहमद और अशरफ की हत्या के बाद यह आशंका व्यक्त की जा रही है कि अतीक और अशरफ की हत्या के पीछे कहीं गुड्डू मुस्लिम का हाथ तो नहीं। उमेश पाल हत्याकांड (umesh pal murder case,)के बाद से गुड्डू मुस्लिम फरार चल रहा है। उमेश पाल हत्याकांड में शामिल 7 शूटरों में से चार का एनकाउंटर हो चुका है इस हत्याकांड में गुड्डू मुस्लिम ने बम बाजी की थी।

जिस समय अतीक (Atique) और अशरफ(Ashraf) की हत्या हुई उनकी जुबान पर आखिरी शब्द गुड्डू मुस्लिम ही था। ऐसा माना जा रहा है कि अशरफ गुड्डू मुस्लिम के बारे में कुछ बताने वाला था लेकिन उसी समय अतीक अहमद और अशरफ पर गोलियां चलाई गई।

अशरफ (Ashraf) को जब बरेली जेल से प्रयागराज पहली बार लाया गया था तब अशरफ ने एसटीएफ को यह आश्वासन दिया था कि वह 3 शूटरों,असद गुलाम और गुड्डू मुस्लिम STF के हवाले कर देगा। इस बयान से गुड्डू मुस्लिम नाराज था ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है। असदऔर गुलाम को झांसी में होने की जानकारी शायद गुड्डू मुस्लिम ने ही STF दी थी। क्योंकि उ झांसी के परीक्षा डैम के पास असद और गुलाम का जब एनकाउंटर हुआ था उस समय गुड्डू मुस्लिम भी वहां मौजूद था। पुलिस की पूछताछ में यह बात सामने आई है। कुछ ठेकेदारों से गुड्डू मुस्लिम में मदद मांगी थी। जब एसटीएफ ने असद और गुलाम को घेर लिया तब उस समय गुड्डू मुस्लिम भी वहां मौजूद था। लेकिन वह वहां से फरार हो गया।

Guddu Muslim And Atique Ahmed News_janpanchayat Hindi news

झांसी से गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) मध्य प्रदेश पहुंचा मध्य प्रदेश से दिल्ली गया दिल्ली में कुछ दिन रहा। उसके बाद वह हरियाणा चला गया। हरियाणा से वह फिर दिल्ली लौटा और पैसे लेकर चला गया
इस तरह गुड्डू मुस्लिम कई राज्यों में घूमता रहा। इसकी बड़ी वजह यह है कि कई राज्यों ने उसे संरक्षण दे रखा है। राज्यों में उसके नेटवर्क से जुड़े लोग मौजूद हैं। बिहार जहां पर माफियाओं के लिए गुड्डू मुस्लिम काम करता है। हरियाणा के माफिया भी गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) की मदद लेते हैं। गुड्डू मुस्लिम का ‘ डी’ कंपनी से भी कनेक्शन है। अतः महाराष्ट्र में भी गुड्डू मुस्लिम छिपा हो सकता है।

फिलहाल गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) के कर्नाटक में छिपे होने की खबर है। अब सवाल यह है कि अतीक अहमद, अशरफ, असद, गुलाम और दो अन्य शूटर मारे जा चुके हैं। लेकिन गुड्डू मुस्लिम अभी तक नहीं पकड़ा जा सका है। क्या अतीक गैंग के कुछ लोग ही गुड्डू मुस्लिम को बचा रहे हैं? क्या गुड्डू मुस्लिम ने हीं अतीक अहमद और अशरफ की हत्या करवाई है? क्योंकि अतीक अहमद और अशरफ पुलिस के सामने एक के बाद एक राज का खुलासा कर रहे थे। गुड्डू मुस्लिम को यह डर सताने लगा था कि कहीं अतीक अहमद और अशरफ उसके खिलाफ भी कोई राज ना खोल दे। शायद यही वजह है कि आशंका जताई जा रही है कि गुड्डू मुस्लिम ने ही अतीक अहमद और अशरफ की हत्या करवाई है।

फिलहाल गुड्डू मुस्लिम (Guddu Muslim) को जिंदा गिरफ्तार करने के लिए एसटीएफ और पुलिस ने चारों तरफ नाकेबंदी कर दी है। अब STF का मकसद गुड्डू मुस्लिम को जिंदा गिरफ्तार करना है। क्योंकि अतीक अहमद से जुड़े सभी राज गुड्डू मुस्लिम और अतीक की पत्नी शाइस्ता को ही पता है। गुड्डू मुस्लिम की गिरफ्तारी से ही यह पता चल पाएगा कि अतीक अहमद की हत्या के पीछे का सच क्या है ?