NewsClick China Funding Row : न्यूज क्लिक(NewsClick)के पत्रकारों पर ED की कार्रवाई, पत्रकारों को लिया गया हिरासत में

NewsClick China Funding News न्यूज क्लिक(NewsClick)के पत्रकारों पर ED की कार्रवाई, पत्रकारों को लिया गया हिरासत में
2009 में शुरू हुई न्यूज क्लिक(NewsClick) एक स्वतंत्र समाचार और समसामयिक मामलों की वेबसाइट है जो सरकार की आलोचना करने के लिए जानी जाती है। हाल ही में न्यूजक्लिक पर UAPA के तहत भारत में चीनी प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए अमेरिकी करोड़पति नेविल राय सिंघम से कथित तौर पर फंडिंग मिलने के आरोप में केस दर्ज किया गया था। न्यूजक्लिक के दफ्तरों पर इससे पहले भी ED की छापेमारी हो चुकी है।

NEWSCLICK CHINA FUNDING Raid By CBI

चीनी फंडिंग (China Funding) के आरोपों में घिरे न्यूज संस्थान न्यूज क्लिक(NewsClick) के खिलाफ मंगलवार को दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई की

2009 में शुरू हुई न्यूज क्लिक(NewsClick) एक स्वतंत्र समाचार और समसामयिक मामलों की वेबसाइट है जो सरकार की आलोचना करने के लिए जानी जाती है। हाल ही में न्यूजक्लिक पर UAPA के तहत भारत में चीनी प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए अमेरिकी करोड़पति नेविल राय सिंघम से कथित तौर पर फंडिंग मिलने के आरोप में केस दर्ज किया गया था। न्यूजक्लिक(NewsClick) के दफ्तरों पर इससे पहले भी ED की छापेमारी हो चुकी है।

मंगलवार को फिर से दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने डिजिटल न्यूज वेबसाइट न्यूजक्लिक के दफ्तर और उसमें काम करने वाले पत्रकारों के घर पर छापेमारी की है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के 500 पुलिसकर्मी इस छापेमारी में शामिल है। 17 अगस्त को UAPA एक्ट के तहत न्यूजक्लिक (NewsClick) के खिलाफ दर्ज मामले को लेकर यह कार्रवाई की गई है। यह छापेमारी दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम और मुंबई में करीब 100 स्थानाे पर चल रही है।

CPM दफ्तर में भी छापेमारी

सीपीएम दफ्तर (CPM Office ) में काम करने वाले श्री नारायण के बेटा सुमित कुमार न्यूज़क्लिक के दफ्तर में ग्राफिक्स और वीडियो टीम में काम करते हैं। इसीलिए 36 कैनिंग लेन में स्थित सीपीएम दफ्तर में श्री नारायण के कमरे में छापेमारी की गई जहां से सुमित कुमार का मोबाइल और लैपटॉप पुलिस ने जब्त कर लिया है।

विदेशी फंडिंग का न्यूज क्लिक पर है आरोप (News Click is accused of foreign funding)

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था कि “द न्यूयॉर्क टाइम्स जैसे अखबार में भी यह बात सामने आई है कि नेविल राय सिंघम और उनका न्यूजक्लिक चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के खतरनाक हथियार हैं। यह दुनिया भर में चीन के राजनीतक एजेंडे को बढ़ावा दे रहे हैं। न्यूजक्लिक पर हाल ही में भारत में चीनी प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए अमेरिकी करोड़पति नेविल राय सिंघम से कथित तौर पर फंडिंग मां मिलने के आरोप लगे थे।

किन पत्रकारों को लिया गया हिरासत में ?

न्यूजक्लिक मामले (NewsClick China Funding) में पूछताछ के लिए कुछ पत्रकारों को हिरासत में लिया गया है। पत्रकार सत्यम तिवारी, उर्मिलेश, अभिसार शर्मा और नई न्यूज़क्लिक के संस्थापक और प्रधान संपादक प्रवीण पुरकायस्थ को स्पेशल सेल के दफ्तर पूछताछ के लिए लाया गया है। पुलिस ने तमाम पत्रकारों के फोन और लैपटॉप जब्त कर लिए हैं। इसके साथ ही स्पेशल सेल द्वारा कुछ दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं। इन पत्रकारों के अतिरिक्त मुंबई में तीस्ता सीतलवाड़ के घर पर भी छापेमारी चल रही है।

ED से मिले इनपुट पर हुई कार्रवाई

आज से पहले फंडिंग के स्रोतों की जांच करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने फर्म के परिसरो पर छापेमारी की थी। लेकिन इस बार ED से मिले इनपुट के आधार पर केस दर्ज कर यह छापेमारी की गई। यह मामला UAPA एक्ट के तहत दर्ज किया गया था।

न्यूजक्लिक (NewsClick) के खिलाफ UAPA के सेक्शन (16) आतंकवादी अधिनियम, सेक्शन (17) आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन जुटाना, सेक्शन (18) साजिश रचने, सेक्शन 22(C) कंपनियों द्वारा अपराध, के तहत मामला दर्ज किया गया है

Read Hindi News Headlines And Breaking 

https://janpanchayat.com/category/short-news-janpanchayat/