June 25, 2024

उत्तर प्रदेश के तीन नए जिलों में कमिश्नरेट प्रणाली लागू (Commissionerate system implemented in three new districts of Uttar Pradesh)

Honorable Chief Minister of Uttar Pradesh Shri Yogi Adityanath has decided to implement Police Commissionerate system in three more districts. A cabinet meeting was held on Friday under the chairmanship of the Honorable Chief Minister. In this meeting the proposal related to this was approved. Prayagraj, Agra and Ghaziabad are the three districts in which the commissionerate system is implemented.
उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने तीन और जिलों में पुलिस कमिश्नरेट प्रणाली लागू करने का फैसला लिया है। शुक्रवार को माननीय मुख्यमंत्री जी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इस बैठक में इससे संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। प्रयागराज, आगरा और गाजियाबाद वे तीन जिले हैं जिनमें कमिश्नरेट प्रणाली लागू की गई है।

police commissionerate system News
Commissionerate System In UP

Police Commissionerate System: उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी (Chief Minister of Uttar Pradesh, Shri yogi Adityanath) ने तीन और जिलों में पुलिस कमिश्नरेट प्रणाली (commissionerate system) लागू करने का फैसला लिया है। शुक्रवार को माननीय मुख्यमंत्री जी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इस बैठक में इससे संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। प्रयागराज, आगरा और गाजियाबाद वे तीन जिले हैं जिनमें कमिश्नरेट प्रणाली (commissionerate system) लागू की गई है।

A commissionerate system has been implemented in each of the three districts of Prayagraj, Agra and Ghaziabad.

 उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री ए.के शर्मा ने बताया कि इन तीन महानगरों को सीआरपीसी (Cr.P.C) के नियमों के अनुसार पहले मेट्रोपॉलिटन एरिया के तौर पर घोषित किया जाएगा।

क्योंकि आगरा जनसंख्या, क्षेत्रफल में वृद्धि और पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण नगरी है इसलिए वहां कमिश्नरेट प्रणाली लागू की जाएगी।

जब से यूपी में कमिश्नरेट प्रणाली (commissionerate system) लागू की गई, तभी से संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में इसको लागू करने के लिए लंबे समय से मांग चल रही थी। प्रयागराज (Prayagraj) की प्रत्येक छोटी-बड़ी घटनाओं की निगरानी शासन स्तर पर की जाती है। ऐसे में यहां कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कमिश्नरेट प्रणाली(commissionerate system) को लागू करना अति आवश्यक हो गया था। प्रयागराज का माघ मेला 2023 कमिश्नरेट प्रणाली में संपन्न होगा।

The Magh Mela 2023 of Prayagraj will be held in the commissionerate system.

कमिश्नरेट प्रणाली (Commissionerate system) लागू होने से जिले की कानून व्यवस्था और विधि व्यवस्था की समीक्षा का कार्य तेजी से हो सकेगा।

कर्फ्यू–गैंगस्टर लगाने का भी होगा अधिकार

इस प्रणाली के लागू होने के बाद अब पुलिस कमिश्नर के पास मजिस्ट्रियल पावर होगी। धारा 144 लागू करने, कर्फ्यू लगाने, गैंगस्टर और गुंडा एक्ट की कार्यवाही पुलिस कर सकेगी। जुलूस प्रदर्शन की अनुमति देने तथा लोक व्यवस्था व शांति बनाए रखने की जिम्मेदारी पुलिस कमिश्नर की होगी।

The Commissioner of Police will have the right to decide whether to allow or not to allow picketing and lathicharge in times of emergency.

कमिश्नरेट जिलों के मुख्य पद (Chief Posts of Commissionerate Districts) -

पुलिस कमिश्नर (CP)

 ↓

ज्वाइंट कमिश्नर (JCP)
(2 पद) 

डिप्टी पुलिस कमिश्नर (DCP)
(जोन के अनुसार पद) 

Additional DCP
(DCP के अधीन) 

Assistant Commissioner of Police (ACP)
(एक जोन में दो से तीन पद) 

Station House Officer (SHO) and others
(थाना प्रभारी, उपनिरीक्षक व अन्य पुलिसकर्मी)

पुलिस को मिलने वाली कानूनी शक्तियां (Legal powers given to the police in Commissionerate system) -

  • उत्तर प्रदेश गुण्डा नियन्त्रण अधिनियम, 1970
  • गिरोहबंद समाज विरोधी क्रियाकलाप (निवारण) अधिनियम, 1986
  • विष अधिनियम, 1919
  • अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम, 1956
  • पुलिस (द्रोह उद्दीपन)अधिनियम,1922
  • पशुओं के प्रति क्रूरता निवारण अधिनियम, 1960
  • विस्फोटक अधिनियम, 1884
  • कारागार अधिनियम, 1894
  • शासकीय गुप्त बात अधिनियम, 1923
  • विदेशियों विषयक अधिनियम, 1946
  • गैरकानूनी गतिविधिया (रोकथाम) अधिनियम, 1967
  • पुलिस अधिनियम, 1861
  • उत्तर प्रदेश अग्निशमन सेवा अधिनियम, 1944
  • उत्तर प्रदेश अग्नि निवारण एवं अग्नि सुरक्षा अधिनियम, 2005