June 25, 2024

Global Wind Day 2023 : आइए जानते हैं वैश्विक पवन दिवस के इतिहास, महत्व और थीम के विषय में

वैश्विक पवन दिवस प्रत्येक वर्ष 15 जून को मनाया जाता है। यह दिन पवन ऊर्जा, उसकी ताकत और हमारी ऊर्जा प्रणालियों को फिर से आकार देने की इसकी क्षमता की खोज के लिए समर्पित है।
पवन ऊर्जा, ऊर्जा का सबसे कुशल और स्थापित नवीकरणीय स्रोत है। पवन ऊर्जा हवा से प्राप्त एक प्राकृतिक ऊर्जा है। इस आधुनिक युग में व्यापक रूप से इसका प्रयोग किया जा रहा है। लेकिन यह एक सदियों पुराना ऊर्जा स्रोत है। इस दिन का उद्देश्य है ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत के रूप में पवन के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना। वैश्विक पवन दिवस (Global Wind Day) विश्व भर में आयोजित कार्यक्रम और गतिविधियों के साथ 15 जून को मनाया जाता है।

Global Wind Day 2023_Janpanchayat Hindi blogs

 वैश्विक पवन दिवस प्रत्येक वर्ष 15 जून को मनाया जाता है। यह दिन पवन ऊर्जा, उसकी ताकत और हमारी ऊर्जा प्रणालियों को फिर से आकार देने की इसकी क्षमता की खोज के लिए समर्पित है।
पवन ऊर्जा, ऊर्जा का सबसे कुशल और स्थापित नवीकरणीय स्रोत है। पवन ऊर्जा हवा से प्राप्त एक प्राकृतिक ऊर्जा है। इस आधुनिक युग में व्यापक रूप से इसका प्रयोग किया जा रहा है। लेकिन यह एक सदियों पुराना ऊर्जा स्रोत है। इस दिन का उद्देश्य है ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत के रूप में पवन के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना। वैश्विक पवन दिवस (Global Wind Day) विश्व भर में आयोजित कार्यक्रम और गतिविधियों के साथ 15 जून को मनाया जाता है।

वैश्विक पवन दिवस का इतिहास (History Of Global Wind Day)

 पहला पवन ऊर्जा दिवस यूरोपीय पवन ऊर्जा संघ (EWEA) द्वारा 2007 में मनाया गया था। यूरोपीय पवन ऊर्जा संघ ने वैश्विक पवन ऊर्जा परिषद(GWEC) के साथ मिलकर 2009 में इसे एक वैश्विक कार्यक्रम में परिवर्तित कर दिया। तबसे 15 जून को वैश्विक पवन दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य था विश्व भर में लोगों को पवन ऊर्जा का अधिकतम लाभ उठाने के लिए प्रोत्साहित करना।

वैश्विक पवन दिवस का महत्व (Significance of Global Wind Day)

आज ग्लोबल वार्मिंग की बढ़ती समस्या के कारण ऊर्जा स्रोतों का उपयोग अत्यंत महत्वपूर्ण है। पवन ऊर्जा सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला ऊर्जा स्रोत है। हवा मानव जाति के लिए प्रकृति का अनुपम उपहार है। यह मानव जीवन के लिए अत्यंत आवश्यक है। आज के प्रौद्योगिकी युग में धरती की हवा प्रदूषित हो चुकी है। इसलिए आज का मानव भविष्य में होने वाली परेशानियों को भांपकर जीवनदायिनी वायु की शुद्धता के लिए सचेत हो गया है। वैश्विक पवन दिवस (Global Wind Day)पवन ऊर्जा के महत्व के बारे में लोगों विशेषकर बच्चों को शिक्षित करने का दिन है। जैसे-जैसे जलवायु संकट बढ़ता जा रहा है वैसे-वैसे विश्व पवन दिवस मनाना आवश्यक होता जा रहा है।

क्या है वैश्विक पवन ऊर्जा परिषद (What is Global Wind Energy Council) ?

वैश्विक पवन ऊर्जा परिषद एक सदस्य आधारित संगठन है जो विश्वभर की पवन ऊर्जा का प्रतिनिधित्व करता है। इसका सचिवालय बेल्जियम के ब्रुसेल्स में स्थित है। वैश्विक पवन ऊर्जा परिषद के सदस्य 80 से भी ज्यादा देशों में 1,500 से अधिक कंपनियों, संगठनों और संस्थानों का प्रतिनिधित्व करते हैं।
वर्तमान समय में जब पूरा विश्व जलवायु परिवर्तन जैसी समस्या से लड़ रहा है, ग्लोबल वार्मिंग को नियंत्रित करने के लिए हजारों लाखों नीतियां पेश की जा रही है, ऐसे में पवन ऊर्जा जीवाश्म ईंधन का सबसे अच्छा विकल्प है, जो ना केवल हवा की उत्पत्ति करती है बल्कि वैश्विक कार्बन उत्सर्जन संबंधी कोई अन्य समस्या भी इससे उत्पन्न नहीं होती है।

पवन ऊर्जा के लाभ (Benefits of Wind Energy)

हवा न केवल हमारे ऊर्जा संसाधनों में से एक है अपितु यह हमारे लिए बहुमूल्य भी है। अतः वैश्विक पवन दिवस(Global Wind i के अवसर पर ऊर्जा संसाधनों को स्वच्छ, परिशुद्ध तथा अक्षय रखने से संबंधित बातों पर ध्यान दिया जाता है। हमारे समस्त ऊर्जा प्रणालियों को नया रूप देने की क्षमता पवन ऊर्जा में है। नि:संदेह पवन ऊर्जा पर दुनिया टिकी है। पवन ऊर्जा दिवस संपूर्ण विश्व के देशों की अर्थव्यवस्थाओं को डीकार्बोनाइज करने और विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। पवन ऊर्जा क्षेत्र आर्थिक विकास को प्रोत्साहित करता है, नौकरी के अवसर प्रदान करता है। पवन ऊर्जा उत्पादन कोई हानिकारक प्रदूषक या ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन पैदा नहीं करता जो हवा की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करता है।

कैसे कार्य करती है पवन ऊर्जा (How does Wind Energy Work)?

मूल रूप से यांत्रिकी या विद्युत शक्ति का उत्पादन करने के लिए पवन का उपयोग किया जाता है। आज तीव्र गति से बढ़ने वाली प्रौद्योगिकियों में पवन ऊर्जा भी एक है। पवन ऊर्जा अक्षय ऊर्जा की श्रेणी में आती है। पवन ऊर्जा के अंतर्गत हवा द्वारा उत्पन्न काइनेटिक एनर्जी (गतिज ऊर्जा) को जनरेटर मोटर शाफ्ट के उपयोग द्वारा इलेक्ट्रिकल एनर्जी(विद्युत ऊर्जा) में परिवर्तित किया जाता है।

शुद्ध शून्य उत्सर्जन के लक्ष्य को प्राप्त करने में पवन ऊर्जा का महत्व

हम सभी जानते हैं कि खतरे के पूर्व संकेत और चेतावनियों के बावजूद जीवाश्म ईंधन के प्रयोग में कटौती करने में विश्व सफल नहीं हो पा रहा है। वायु प्रदूषण चारों तरफ फैला हुआ है, जिसके मद्देनजर मानव जाति को जागरूक करने के लिए तथा पवन ऊर्जा की शक्ति और संभावनाओं को उजागर करने के लिए वैश्विक पवन दिवस(Global Wind Day) मनाया जाता है। विश्व के सभी प्रमुख जागरूक देश कार्बन उत्सर्जन को सीमित करने और शुद्ध शून्य उत्सर्जन की ओर अपना लक्ष्य रखने को उद्यत हैं। पवन ऊर्जा दुनिया को अपने शुद्ध शून्य उत्सर्जन के लक्ष्य तक पहुंचाने में सहायता कर सकती है।

पवन ऊर्जा से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  • पवन ऊर्जा बिजली उत्पादन को सबसे तेजी से बढ़ने वाला तरीका
    “पवनचक्कियों का उपयोग 2000 ईसा पूर्व से किया जा रहा है।
  • पहली आधुनिक पवन टरबाइन वर्मोंट 1940 के दशक में यूएसए में बनाई गई थी।
  • सबसे बड़ी पवन टरबाइन संयुक्त राज्य अमेरिका में बनाई गई थी जो 20 मंजिल लंबी है तथा जिसके ब्लेड एक फुटबॉल मैदान की लंबाई के हैं।
  • जर्मन भौतिकी विज्ञानी अल्बर्ट बेटज पवन टरबाइन प्रौद्योगिकी के अग्रणी थे।
  • पवन ऊर्जा की सर्वाधिक स्थापित क्षमता जर्मनी में है।
  • ऊर्जा के सबसे कुशल और पर्यावरण के अनुकूल स्रोतों में से एक है पवन ऊर्जा

 पवन टरबाइन के लगभग 8000 विभिन्न भाग होते हैं।
यदि हवा 130 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक चलती है तो सुरक्षा के तौर पर ब्लेड मोड़ना बंद कर देते हैं।

कैसे मनाया जाता है वैश्विक पवन दिवस (How is Global Wind Day Celebrated) ?

  • वैश्विक पवन दिवस (Global Wind Day) के अवसर पर लोग सम्मेलनों, सेमिनारो और वैकल्पिक ऊर्जा स्रोत के रूप में हवा के बारे में बात करने वाले शैक्षिक कार्यक्रमों में भाग लेते हैं।
    पवन ऊर्जा के महत्व के बारे में दूसरों को शिक्षित एवं जागरूक किया जाता है।
  • जागरूकता फैलाने के लिए वैश्विक पवन ऊर्जा दिवस पर सोशल मीडिया अभियान में लोग भाग लेते हैं।
  • जहां तक संभव हो पवन ऊर्जा के उपयोग के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाता है।

वैश्विक पवन दिवस 2023 की थीम (Theme of Global Wind Day 2023)

वैश्विक पवन दिवस 2023 की थीम है –
“प्रकृति की शक्ति का दोहन।”
(Harnessing the Power of Nature)

Read more hindi blogs

https://janpanchayat.com/category/interesting-facts/