July 12, 2024

पीएम मोदी तीन दिवसीय विदेश यात्रा पर मॉस्को रवाना, पीएम के रूस दौरे के क्या है मायने? :PM Modi Russia Visit 

PM Modi Russia Visit

PM Modi Russia Visit: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से 2 दिनों के रूस दौरे के लिए रवाना हो गए हैं। भारत रूस के बीच 22 वें शिखर सम्मेलन के लिए राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पीएम मोदी को निमंत्रण भेजा था। पीएम मोदी की यूक्रेन पर हमले के बाद यह पहली रूस यात्रा है। वह 8 और 9 जुलाई को मास्को में रहेंगे। इस हाई लेवल यात्रा को लेकर विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों नेता दोनों देशों के बीच संबंधों की की समीक्षा करेंगे और आपसी हित के लिए क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर बात करेंगे।

3 साल बाद हो रहा भारत- रूस शिखर सम्मेलन

भारत रूस के बीच 22 वां शिखर सम्मेलन 9 जुलाई को मास्को में शुरू होगा। यह सम्मेलन 3 साल बाद हो रहा है। इसके पहले दिसंबर 2021 में यह सम्मेलन दिल्ली में हुआ था जब रूस के राष्ट्रपति पुतिन भारत आए थे। इस यात्रा के दौरान पीएम मोदी और पुतिन के बीच द्विपक्षीय बातचीत होगी। दोनों नेताओं के बीच बातचीत में व्यापार रक्षा समझौते के साथ-साथ यूक्रेन युद्ध पर भी बात हो सकती है। इस दौरे में पीएम मोदी उन नौजवानों की रिहाई का मुद्दा भी उठा सकते हैं जिन्हें रूसी सेना में नौकरी के नाम पर गुमराह करके भेजा गया। मास्को में पीएम मोदी के सम्मान में पुतिन की तरफ से डिनर का कार्यक्रम भी रखा गया है। 10 जुलाई को पीएम मोदी ऑस्ट्रिया के लिए रवाना हो जाएंगे। इस दौर में पीएम भारतीय समुदायों से भी बात करेंगे

क्या है शेड्यूल

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय समय के अनुसार सुबह 11:00 बजे मास्को में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। और इसके बाद दोपहर 12:30 बजे शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे। इसके बाद 3:00 बजे ट्रेनिंग क्रेमालिन समिट में भी पीएम मोदी हिस्सा लेंगे।

पूर्व पीएम को पीछे छोड़ लगातार सातवीं बार Budget पेश करने का रिकॉर्ड बनाएंगी Nirmala Sitharaman: Union Budget 2024

पीएम मोदी के दौरे को पश्चिम देख रहा ईर्ष्या से

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की प्रेस सेक्रेटरी ने बताया कि पीएम मोदी के इस दौरे को पश्चिम ईर्ष्या के भाव से देख रहा है। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रेस सेक्रेटरी दिमित्री पेश्कोव ने कहा “रूस और भारत के बीच रिश्ते और राजनीतिक साझेदारी बेहतरीन है। यह दोनों नेताओं की आपसी और प्रतिनिधिमंडल लेवल की बातचीत होगी।” प्रेस सेक्रेटरी ने बताया कि “हम बहुत ही महत्वपूर्ण और गूढ़ यात्रा की उम्मीद कर रहे हैं, जो रूस और भारतीय रिश्तो के लिए बहुत अहम है।”

क्यों खास है पीएम मोदी की रूस यात्रा

पीएम मोदी की रूस यात्रा बेहद अहम बताई जा रही हैं। इस यात्रा को लेकर रूस राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी बेहद उत्साहित हैं। भारत के राजदूत के अनुसार पीएम मोदी का रूस दौर बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि दुनिया भर में बहुत कुछ बदल गया है। इन तीन सालों में भारत रूस के संबंधों का विस्तार हुआ है। रूस अब फूड एनर्जी का एक महत्वपूर्ण सोर्स है, अन्य क्षेत्रों में भारत रूस का व्यापार बढ़ा है। यह यात्रा दोनों नेताओं के लिए द्विपक्षीय संबंधों में इन सभी मुद्दों और आपसी हितों के अन्य मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो दिवसीय रूस दौरे से पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री का रूस दौरा दोनों नेताओं के लिए महत्वपूर्ण है। दोनों देशों के मध्य व्यापार असंतुलन जैसे कुछ मुद्दे हैं, जिनका दोनों देश निष्कर्ष निकालना चाहते हैं। इसके लिए दोनों नेता आमने-सामने बैठकर इसके निवारण के लिए खुलकर चर्चा करेंगे। भारत रूस के बीच करीब 65 अरब डॉलर का कारोबार होता है और रूस इसमें आगे है।