World Mental Health Day 2023: आईए जानते हैं विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम, इतिहास, महत्व और उद्देश्य के बारे में

World Mental Health Day 2023 || Mental Health || Importance of mental health: आईए जानते हैं विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम, इतिहास, महत्व और उद्देश्य के बारे में : एक बेहतर समाज के निर्माण के लिए स्वस्थ मानसिकता अत्यंत आवश्यक है। मानसिक रूप से स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ समाज का निर्माण कर सकता है लेकिन आज के दशक में मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं (mental health issues) एक बड़ी चुनौती के रूप में उभरी हैं और जहां तक बात है 2020 के बाद की तो कोरोना महामारी के बाद से यह समस्या व्यापक तौर पर उभरी है। मनोरोगियों (psychopath) की संख्या 2020 के बाद तेजी से बढ़ी है। चिंता, तनाव और अवसाद के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। कुछ अध्ययनों के अनुसार प्रत्येक चार में से एक व्यक्ति मनोरोग (Mental illness) का शिकार है। विशेषज्ञों की माने तो आने वाले 5 से 8 वर्षों में मानसिक स्वास्थ्य समस्या और भी बढ़ सकती है।

World Mental Health Day 2023_विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस_mental illness_10 October

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस || World Mental Health Day || 10 October || Health Days

स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए स्वस्थ मानसिकता अत्यंत आवश्यक

एक बेहतर स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए स्वस्थ मानसिकता (Healthy Mindset) अत्यंत आवश्यक है। मानसिक रूप से स्वस्थ व्यक्ति ही स्वस्थ समाज (Healthy Society) का निर्माण कर सकता है लेकिन आज के दशक में मानसिक स्वास्थ्य समस्याएं (Mental Health Issues) एक बड़ी चुनौती के रूप में उभरी हैं और जहां तक बात है 2020 के बाद की तो कोरोना महामारी के बाद से यह समस्या व्यापक तौर पर उभरी है।

 मनोरोगियों (Psychopaths) की संख्या 2020 के बाद तेजी से बढ़ी है। चिंता, तनाव और अवसाद के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। कुछ अध्ययनों के अनुसार प्रत्येक चार में से एक व्यक्ति मनोरोग (psychiatry) का शिकार है। विशेषज्ञों की माने तो आने वाले 5 से 8 वर्षों में मानसिक स्वास्थ्य समस्या (Mental health issues) और भी बढ़ सकती है।

कब मनाया जाता है विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (When is Mental Health Day Celebrated) ?

 पूरे विश्व में मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों पर जागरूकता पैदा करने के लिए प्रत्येक वर्ष 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य एक दूसरे के पूरक होते हैं। यदि इसमें से किसी एक को भी समस्या होती है तो दूसरे का स्वास्थ्य प्रभावित होता है। अतः शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए मानसिक रूप से स्वस्थ रहना भी अनिवार्य है। ऐसे में मानसिक स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता अत्यंत आवश्यक है।

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का इतिहास (History Of World Mental Health Day)

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World Mental Health Day) की स्थापना वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ मेंटल हेल्थ द्वारा आधिकारिक तौर पर 1992 में की गई थी। जिसमें 150 से अधिक देशों में एक वैश्विक मानसिक स्वास्थ्य संगठन शामिल है। वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ मेंटल हेल्थ के उपप्रमुख रिचर्ड हंटर ने 1992 में पहला प्रस्ताव दिया था।

 1994 में तत्कालीन संयुक्त राष्ट्र के महासचिव यूजीन ब्रांडी के सुझाव के बाद विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस को एक थीम के साथ बनाने की शुरुआत की गई। सन 1994 में पहली बार “दुनिया भर में मानसिक स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार।” नामक थीम के साथ विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया गया था। तब से प्रत्येक वर्ष वैश्विक स्तर पर मानसिक स्वास्थ्य के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है।

Mental Illness_World Mental Health Day

क्या है मानसिक बीमारी (What is Mental Illness) ?

मानसिक रोग (Mental Illness) विश्व भर में होने वाली सामान्य बीमारियों में से एक है। WHO के अनुसार मानसिक रोगों से अनुमानत: 450 मिलियन लोग पीड़ित है। भारत में लगभग 1.5 मिलियन व्यक्ति, जिनमें बच्चे एवं किशोर भी शामिल है, गंभीर मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से प्रभावित हैं। और कोरोना महामारी के बाद तो मानसिक रोगों  का खतरा और भी अधिक बढ़ गया है।

मानसिक अस्वस्थता (Mental Illness ) व्यक्ति के महसूस करने, सोचने व काम करने के तरीकों को प्रभावित करती है। यह रोग व्यक्ति के मनोयोग, स्वभाव, ध्यान और संयोजन एवं बातचीत करने की क्षमता में समस्या पैदा करता है। जिससे व्यक्ति असामान्य व्यवहार करने लगता है। मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति को दैनिक जीवन के क्रियाकलापों के लिए भी संघर्ष करना पड़ता है। आज के दशक में यह गंभीर समस्या स्वास्थ्य चिंता का विषय बन गई है। WHO के रिपोर्ट के मुताबिक वैश्विक स्तर पर 8 में से एक शख्स मानसिक अस्वस्थता का शिकार है। मानसिक अस्वस्थता आत्महत्या का सबसे बड़ा कारण है।

मानसिक अस्वस्थता के कारण (Causes of Mental Illness)

मानसिक अस्वस्थता के निम्नलिखित कारण है (The following are the reasons for mental illness)-

  • अनुवांशिक असामान्यताएं
  • परिवेश संबंध तनाव जैसे- चिंता, अकेलापन, साथियों का दबाव, आत्म सम्मान में कमी, परिवार में मृत्यु या तलाक
  • मस्तिष्क की चोट
  • दुर्घटना, चोट, हिंसा एवं बलात्कार से मनोवैज्ञानिक आघात होना।
  • संक्रमण के कारण मस्तिष्क की क्षति
  • अल्कोहल एवं ड्रग्स जैसे मादक पदार्थों का अधिक सेवन
  • गर्भावस्था के कारण
  • पारिवारिक कलह
  • मस्तिष्क में रासायनिक असंतुलन आदि।

मानसिक अस्वस्थता के क्या है लक्षण (What is the Symptoms of Mental Illness) ?

मानसिक अस्वस्थता के निम्नलिखित लक्षण हैं (Following are the symptoms of mental illness-)-

  • मतिभ्रम होना (अपना नाम पता समय दिन व दिशा इत्यादि बताने में कठिनाई महसूस करना)
  • बहुत अधिक निराश होना
  • अकेले रहना अधिक पसंद करना
  • मनोदशा में बहुत जल्दी-जल्दी परिवर्तन होना
  • संबंधों का निर्वहन करने में असमर्थ होना
  • नशे का अत्यधिक उपयोग करना
  • दवाओं का दुरुपयोग करना
  • काल्पनिक दुनिया में खोए रहना
  • नींद और भूख की भारी कमी महसूस करना
  • किसी भी काम के लिए अपने को ही दोष देना
  • हमेशा आत्मग्लानि से दुखी रहना
  • आत्महत्या का विचार आना अथवा आत्मघाती कदम उठाना
  • अपने मनपसंद कार्यों में भी अरुचि होना।

उपर्युक्त लक्षण मानसिक अस्वस्थता को दर्शाते हैं।

मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के क्या है उपाय (What are the Prevention for Mental Health) ?

निम्नलिखित उपायों को अपना कर मानसिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं, जैसे (You can remain mentally healthy by adopting the following measures, such as:)-

  • व्यर्थ की चिंताओं से दूर रहें
  • नकारात्मक घटनाओं से व्यथित न हो
  • भावनाओं पर नियंत्रण रखें
  • वास्तविकता को स्वीकार करके आगे बढ़ने का प्रयास करें
  • अपनी पसंद और शौक के लिए समय दें
  • अपनी क्षमताओं के अनुरूप अपने लक्ष्य का निर्धारण करें
  • प्रसन्न चित्त रहने का प्रयास करें
  • दिनचर्या को नियमित रखें
  • अपना आत्मविश्वास खोने ना दे
  • नियमित योग व ध्यान का अभ्यास करें
  • अपने अच्छे कार्यों की प्रशंसा करें और स्वयं को भी महत्व दें
  • परिवार के साथ समय व्यतीत करें
  • सामाजिक क्रियाकलापों में भी भाग ले
  • अनावश्यक रूप से किसी से अपनी तुलना ना करें
  • उपलब्ध संसाधनों का सदुपयोग करते हुए संतुष्ट रहें
  • मन को परेशान करने वाली घटना या बातों को अपने दोस्त या परिवारजनों से साझा करें।
  • जिस व्यवसाय में आपकी रुचि ना हो उसे बदलने का प्रयास करें

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का महत्व (Significance of Mental Health Day)

 मानसिक स्वास्थ्य सबसे उपेक्षित स्वास्थ्य क्षेत्र रहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार करीब 1 मिलियन लोग मानसिक रोग (Mental illness) के साथ जीवन व्यतीत कर रहे हैं।क्योंकि मानसिक स्वास्थ्य पर ज्यादातर लोग ध्यान नहीं देते, जिसके कारण प्रत्येक 40 सेकंड में एक आत्महत्या की घटना होती है। मानसिक स्वास्थ्य दिवस के माध्यम से लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना होगा। मानसिक स्वास्थ्य पर आज के दशक में विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। आज व्यक्ति में बढ़ते मानसिक रोगों के कारण विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का महत्व बढ़ गया है। जिसके माध्यम से लोगों को मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करने के लिए जागरूक किया जाता है।

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का उद्देश्य (Objective of World Mental Health Day)

आज के प्रतिस्पर्धा भरे माहौल में प्रत्येक व्यक्ति के जीवन में कोई ना कोई प्रतिस्पर्धा है और इस प्रतिस्पर्धा के कारण हमारे मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) पर दबाव पड़ता है। आज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में प्रत्येक व्यक्ति तनाव से गुजर रहा है। जिसके कारण डिप्रेशन, चिंता, मानसिक तनाव, डिमेंशिया, फोबिया से लेकर हिस्टीरिया जैसे मानसिक बीमारियों (mental Illness) का शिकार हो रहा है। विश्व भर में मानसिक स्वास्थ्य के महत्व को समझने के लिए 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। इस दिन का मुख्य उद्देश्य है दुनिया भर में मानसिक बीमारी के प्रति जागरूकता पैदा करना और जनहित को ध्यान में रखते हुए सरकार को स्वास्थ्य नीतियों के निर्माण के लिए प्रेरित करना।

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 2023 की थीम(Theme of World Mental Health Day 2023)

  विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस(World Mental Health Day) प्रत्येक वर्ष एक थीम के तहत मनाया जाता है। वर्ष 2023 के मानसिक स्वास्थ्य दिवस की थीम है-

“मानसिक स्वास्थ्य एक सार्वभौमिक मानव अधिकार है।”

(Mental Health is a Universal Human Right.)

About World Mental Health Day on WHO : 

https://www.who.int/campaigns/world-mental-health-day